आँखों के चारों ओर कालापन व आखों की सुंदरता के घरेलू उपाय

आँखों के चारों ओर कालापन व आखों की सुंदरता के घरेलू उपाय

1. एक चम्मच टमाटर का रस, आधा चम्मच नींबू का रस, एक चुटकी हल्दी का बारीक चूर्ण, थोड़ा सा बेसन मिलाकर गाढ़ा लेप बना लें| आँखों के नीचे व चारों तरफ घेरो पर लेप करके 10 मिनिट लगा रहने दें| इसे सूखने से पहले धीरे धीरे हाथों से मले व उसके बाद साधारण पानी से दो लें| कुछ दिन तक रोज यह प्रयोग दिन मे एक बार ज़रूर करें| आँखों के नीचे काले घेरे मिटाने का यह सबसे प्रभावशाली तरीका है|
२. प्रायः आइरन व कैल्शियम की कमी से नेत्रों के चारों तरफ काले घेरे बनते है| क्रोधी स्वाभाव व कामुक विचारों की वजह से भी ये काले घेरे बनते है| लाल पके टमाटर विटामिन ‘ए’ ‘सी’ व आइरन के उत्तम स्त्रोत है इसलिए रोज टमाटर का सेवन करना चाहिए|
3.  रोज आधा गिलास गाजर का रस पीना चहिये व कच्ची गाजर खानी चाहिए|
4. २ भाग टमाटर के रस में एक भाग नींबू का रस मिला लें व अपने फेस पर लगाएँ| सूख जाने पर चेहरा साधारण जल से धो लें| दिन में २ बार सुबह शाम इस घोल के प्रयोग से कुछ ही दिनों मे चेहरा मुलायम व दाग रहित हो जाता है| गालों व होठों की लाली बढ़ती है व चेहरे के छोटे छोटे छिद्र भर जाते है व नेत्रो के काले घेरे मिटते है|

home remedies for dark circles and wrinkles / आँखों के चारों ओर कालापन व आखों की सुंदरता के घरेलू उपाय
5. टमाटर का रस:  125 ग्राम टमाटर का रस लेकर उसमें आधा नींबू निचोड़ लें| 5-7 पुदीने की पत्तियाँ पीस कर इसमें डाल दें| स्वाद अनुसार काला नमक डाल लें| टमाटर के इस शीतल रस को सुबह व शाम एक बार पीने से कब्ज, पेट के कीड़े व कील मुहासों से छुटकारा मिलता है त्वचा का सांवलापन दूर होता है| इस समय तेल, मिर्च, चाय आदि का सेवन बंद कर दें|
6. अगर आँखें अंदर की तरफ धसती जा रही हो ओर आँखों के चारों तरफ कालापन छा रहा हो तो बादाम का तेल व शहद समान मात्रा में मिला कर रख लें| कुछ बूंदे रात को सोते समय आँखों के चारों ओर धीरे धीरे मलें| यह उपचार बहुत जल्दी अपना प्रभाव दिखाता है| बादाम के तेल की जगह जैतून का तेल भी काम में ले सकते है| 2-3 सप्ताह के प्रयोग से ये शिकायत दूर होने के साथ झुर्रियाँ भी दूर हो जाती है|
7. रात को भिगोइ हुई बादाम को अगले दिन सुबह खूब चबा चबा कर खाएँ व उपर से २५० ग्राम दूध पी लें| रोज सुबह लगातार 21 दिन तक यह प्रयोग करने से बहुत जल्दी लाभ होगा|
8. देसी गुलाब के फूलों का गुलकंद रोज 2 चम्मच शाम के समय खाएँ|
9. खीरे के रस में रूई को भिगों कर पलकों पर व कुछ देर तक रखकर हटा लें| 2-3 सप्ताह राक रोज करें| इससे आँखों के चारो तरफ का कालापन दूर होता है|
10.  प्रातः मुह में साधारण पानी भरकर गाल फुलाते हुए त्रिफला जल से हल्के छींटे देते हुए आँखे धोएँ| इस प्रकार रोज आँख धोने से समस्त नेत्र रोग मिटते है व नेत्र ज्योति मंद नहीं होती है| आँखे सुंदर, चमकदार बनती है व आँखो के चारों ओर का कालापन दूर होता है| यदि आँखो की वजह से सिर दर्द होता है तो वह भी ठीक हो जाता है| पलकों के बाल काले बने रहते है| नेत्रों का पीलापन, जलन, खुजली मिटती है|
11. त्रिफला चूर्ण व पीसी हुई मिश्री समान मात्रा में मिलाकर एक सॉफ बोतल में भर लें| इसमें से एक चम्मच की मात्रा लेकर उतना ही शहद मिलाकर खाली पेट प्रातः व शाम चाटने व उपर से 250 ग्राम दूध पीने से 2-3 महीने में ही आँखो के सारे रोग दूर हो जाते है व आँखे निर्मल होकर चमकने लगती है| यह एक उत्तम रसायन है जिससे बुढ़ापे में भी नेत्र ज्योति तेज बनी रहती है|
१२. आँखो के चारो ओर रोज बादाम तेल या जैतून के तेल से नर्मी से मालिश करनी चाहिए|